Connect with us

उत्तराखंड की बेटियों ने रचा इतिहास,महिला क्रिकेट टीम ने अंडर 19 वनडे बीसीसीआई बोर्ड ट्रॉफी जीती

उत्तराखण्ड

उत्तराखंड की बेटियों ने रचा इतिहास,महिला क्रिकेट टीम ने अंडर 19 वनडे बीसीसीआई बोर्ड ट्रॉफी जीती

उत्तराखंड के इतिहास में पहली बार हुआ है जब किसी क्रिकेट टीम ने बीसीसीआई की बोर्ड ट्रॉफी जीती है। 

जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में मध्य प्रदेश को आठ विकेट से हराकर । इस जीत की पटकथा एक बार फिर रामनगर की नीलम ने अपनी बल्लेबाजी से लिखी। नीलम ने नाबाद 56 रनों की पारी खेली।

मध्यप्रदेश के खिलाफ उत्तराखंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। मध्यप्रदेश की सलामी जोड़ी ने सधी हुई शुरुआत करते हुए स्कोर 40 के पार पहुंचाया। कप्तान पूजा ने गेंदबाजी साक्षी को सौंपी तो उन्होंने नैनी को बोल्ड करके उत्तराखंड को पहली सफलता दिलाई। अगले ओवर में साक्षी की गेंद पर कल्याणी ने क्रीज से आगे निकलकर खेलने की कोशिश की तो नंदिनी ने उन्हें स्टंप आउट किया। अगले ही ओवर में कप्तान पूजा ने अनुष्का को विकेट के पीछे कैच आउट कराकर मध्य प्रदेश को 52 रन के योग पर तीसरा झटका दिया। इसके बाद तो विकेटों के गिरने का सिलसिला शुरू हो गया। मध्यप्रदेश के महज चार बैटर ही दहाई की संख्या छू सके और पूरी टीम 102 रन बनाकर ऑलआउट हो गई। पूजा ने तीन विकेट, साक्षी, राघवी और ज्योति ने दो-दो जबकि मिनाक्षी ने एक विकेट लिया। मध्य प्रदेश की पूरी टीम 102 रन बनाकर आउट हो गई।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

103 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी उत्तराखंड की सलामी जोड़ी फिर जल्द ही टूट गई। शगुन महज पांच रन बनाकर उन्नति की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गईं। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आई राघवी बगैर खाता खोले पवेलियन लौट गईं। 19 रन के योग पर दो विकेट गिरने पर संघर्ष कर रही टीम के लिए एक बार फिर रामनगर की नीलम खेवनहार साबित हुईं और ज्योति के साथ टीम को जीत दिला दी। ज्योति ने नाबाद 26 रनों की पारी, जबकि नीलम ने नाबाद 56 रनों की पारी खेली। 
उत्तराखंड की टीम का सफर आसान नहीं था। एलीट ग्रुप डी में शामिल उत्तराखंड की बेटियों के शुरुआती चार मैच बारिश से धुल गए तो लगा टीम का अगले दौर में पहुंचना मुश्किल है, क्योंकि अंतिम मुकाबला सौराष्ट्र की टीम से था जो उत्तराखंड की अपेक्षा मजबूत समझी जा रही थी। इस मैच में उत्तराखंड ने सौराष्ट्र को 39 रनों पर ढेर कर दिया। नौ विकेट से मैच जीतकर और रनगति के आधार पर उत्तराखंड प्वाइंट टेबल पर शीर्ष पर पहुंच गई। इसकी वजह से टीम को क्वार्टर फाइनल में सीधे प्रवेश मिल गया। अधिकतर क्रिकेट प्रेमी इस जीत को तुक्का समझ रहे थे। क्वार्टर फाइनल में बेटियों ने पंजाब और सेमीफाइनल में आंध्रप्रदेश की टीम को पटखनी दी तो उत्तराखंड के खेल प्रेमियों को समझ में आया म्यर चेलीं कै हैं बेर कम न्हैति (हमारी बेटियां किसी से कम नहीं हैं

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड उच्च न्यायालय स्थानांतरण कुमाऊं-गढ़वाल का विषय न बने।

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page