Connect with us

देव-भूमि, तपोभूमि और वीर-भूमि उत्तराखण्ड में आना, मैं अपना सौभाग्य मानती हूं-द्रौपदी मुर्मु

उत्तराखण्ड

देव-भूमि, तपोभूमि और वीर-भूमि उत्तराखण्ड में आना, मैं अपना सौभाग्य मानती हूं-द्रौपदी मुर्मु

देहरादून– राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु का उत्तराखण्ड आगमन पर मुख्यमंत्री आवास में राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल श्री गुरमीत सिंह एवं मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी सहित अन्य गणमान्य जनों की उपस्थिति में नागरिक अभिनन्दन किया गया। मुख्यमंत्री आवास में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मु द्वारा ₹2001.94 करोड़ की 9 विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया गया। इस अवसर पर आयोजित सांस्कृतिक संध्या में राष्ट्रपति के समक्ष प्रदेश की लोक संस्कृति का लोक कलाकारों द्वारा प्रदर्शन किया गया। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने अभिनंदन-समारोह के उत्साह-पूर्ण आयोजन के लिए राज्यपाल, मुख्यमंत्री और समस्त उत्तराखण्डवासियों का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि देव-भूमि, तपोभूमि और वीर-भूमि उत्तराखण्ड में आना, मैं अपना सौभाग्य मानती हूं। राष्ट्रपति ने विभिन्न विकास परियोजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इन परियोजनाओं से लोगों के लिए जन-सुविधाएं बढ़ेंगी। उन्होंने इन परियोजनाओं के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार की सराहना की। राष्ट्रपति ने कहा कि राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह के सुव्यवस्थित मार्गदर्शन और मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के ऊर्जावान नेतृत्व में, उत्तराखण्ड समग्र विकास के पथ पर अग्रसर है।

राज्य के विकास की इस यात्रा में प्रदेश के प्रतिभाशाली निवासियों का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने कहा कि वीरों की जननी उत्तराखण्ड की भूमि को शत्-शत् प्रणाम करती हूं। इस धरती के शूरवीरों को अशोक-चक्र और कीर्ति-चक्र से भी सम्मानित किया गया है। मैं सभी देशवासियों की ओर से उत्तराखण्ड के वीर सपूतों के प्रति कृतज्ञता व्यक्त करती हूं। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से.नि.) ने राष्ट्रपति का देवभूमि उत्तराखण्ड की जनता की ओर से स्वागत और अभिनंदन करते हुए कहा कि माननीय राष्ट्रपति जी के उत्तराखण्ड आगमन से यहां का कण-कण स्वयं को ऊर्जावान और गौरवशाली महसूस कर रहा है।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु जी का देवभूमि आगमन पर स्वागत और अभिनंदन करते हुए कहा कि आपका यहां स्वयं देवभूमि आना मेरे और उत्तराखण्ड के सवा करोड़ नागरिकों के लिए गर्व की बात है। मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि आज राष्ट्रपति जी द्वारा जो लगभग 2002 करोड़ रुपयों की योजनाओं का शिलान्यास/लोकार्पण हो रहा है, वो इस बात का प्रमाण है कि अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए हम राष्ट्रपति जी के मार्गदर्शन व प्रधानमंत्री जी के निर्देशन में निरंतर आगे बढ़ रहे हैं।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री धामी ने राष्ट्रपति को कंडाली के रेशों से बनी हुई शॉल भेंट की, इस शॉल पर उत्तराखण्ड की प्राचीन लोककला शैली थापे को उकेरा गया है। साथ ही राष्ट्रपति को उत्तराखण्ड की लोक कला शैली थापे और ऐपण के मिश्रण से तैयार स्मृति चिन्ह भी भेंट किया गया।

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page