Connect with us

जिला पंचायत की बैठक, आपदा,राशन,सड़क के मुद्दे छाए रहे सदन में

उत्तराखण्ड

जिला पंचायत की बैठक, आपदा,राशन,सड़क के मुद्दे छाए रहे सदन में

पिथौरागढ़– शुक्रवार को जिला पंचायत पियौरागढ़ की सामान्य
बोर्ड की बैठक अध्यक्ष जिला पंचायत पिथौरागढ़ दीपिका बोहरा की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में संपन्न हुई। बैठक में उपस्थित विभिन्न क्षेत्रों से आये सदस्य,जिला पंचायत द्वारा सदन के माध्यम से विभागों को अपने क्षेत्र की समस्याओं को रखा गया। जिन्हें संबंधित विभागों को त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिए गए।


बैठक में सर्वप्रथम विगत 8 जुलाई 2021 को संपन्न जिला पंचायत की बैठक में सदन में रखे गए प्रस्तावों व समस्याओं पर की गई कार्यवाही से अपर मुख्य अधिकारी पंचायत द्वारा सदन को अवगत कराया गया। इसके उपरान्त बैठक में विभागवार चर्चा करते हुए,सदस्यों द्वारा अपनी-अपनी समस्या सदन के माध्यम से रखी गयी। बैठक में उपस्थित विभागीय अधिकारियों द्वारा अपने विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए सदस्यों द्वारा सदन के माध्यम से रखी गयी समस्या एवं प्रकरणों को सुनते हुए कार्यवाही व निस्तारण का आश्वासन देते हुए अगली बैठक में की गई कार्यवाही से अवगत कराया जाएगा ।
बैठक में सर्वप्रथम जिला सेवायोजन अधिकारी ने अवगत कराया कि वर्तमान में जिले में कुल 10 रोजगार शिविर लगाकर स्थानीय बेरोजगारों को रोजगार मुहैय्या करने हेतु कार्य किया गया।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

बैठक में आयुर्वेदिक विभाग की समीक्षा के दौरान तहसील मुनस्यारी तथा धारचूला क्षेत्र में कार्यरत आयुर्वेदिक चिकित्सक तथा कार्मिकों को अन्यत्र सम्बद्ध किया गया है तो उन्हें शीघ्र ही मूल तैनाती स्थल पर भेजे जाने का प्रकरण क्षेत्र के सदस्य जिला पंचायत द्वारा रखा गया तथा सूची भी उपलब्ध कराने को कहा गया। इसके अतिरिक्त सदन में थल, पुराना थल तथा राथी में आयुर्वेदिक भवन का निर्माण
किए जाने व मरम्मत कार्य वर्षात से पूर्व किए जाने का मामला क्षेत्र के सदस्यों द्वारा रखा गया, जिस पर जिला आयुर्वेदिक अधिकारी को आदेशिक किया गया। बैठक में विभिन्न सदस्यों द्वारा विगत
मानसून काल में आपदा से विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों में क्षतिग्रस्त संपर्क मार्ग, दिवार तथा आमजन के घरों की सुरक्षा दिवार को मनरेगा से मारम्मत किए जाने की माँग की गई जिस पर जिला विकास अधिकारी ने अवगत कराया कि उक्त कार्य हेतु मनरेगा कार्ययोजना में प्रस्ताव तैयार किए जा रहे हैं। बैठक में विभिन्न सदस्यों द्वारा दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यालयों में अध्यायकों की तैनाती तथा दुर्गम स्थानों से सुगम स्थानों में किए गए सम्बधीकरण को समाप्त किए जाने की मांग की गई, जिस पर जिला शिक्षा अधिकारी ने सदन को अवगत कराया कि प्राथमिक स्तर पर जिले में कुल 26 विद्यालय जो शिक्षक विहीन हो गए थे उन विद्यालयों को पुनः संचालित करते हुए 220 शिक्षक भरे गये हैं तथा शीघ्र ही और नये शिक्षकों को दुर्गम स्कूलों में नियुक्त किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड उच्च न्यायालय स्थानांतरण कुमाऊं-गढ़वाल का विषय न बने।


सड़क विभाग की समीक्षा के दौरान राथी एवं बलुवाकोट- पंप्यापौड़ी सड़क के सम्बंध में अवगत कराया कि वन भूमि से स्वीकृति प्राप्त पर आगे की कार्यवाही गतिमान है। जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान ने अवगत कराया कि जिले में वन भूमि हस्तातरण के प्रकरणों को शीघ्र ही निस्तारित करने हेतु मुख्य विकास
अधिकारी के नेतृत्व में एक कमेटी गठित कर इनका निस्तारण किया जा रहा है। बैठक में जिला अधिकारी ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिये कि सदन में विभागों के जो भी प्रकरण माननीय सदस्यो द्वारा उठाए जाते हैं सभी अधिकारी उन्हें गंभीरता पूर्वक लेते हुए तय समय पर निस्तारण करें।
बैठक में सड़क विभाग की समीक्षा के दौरान राईआगर से गुप्तड़ी सड़क में जगह-जगह हो रहे गड्ढे तथा क्षतिग्रस्थ सड़क मार्ग को तुरंत ठीक करने की मांग क्षेत्र के सदस्य जिला पंचायत द्वारा रखी गयी। इसके अतिरिक्त मुनस्यारी धारचूला तथा जिले के दूरस्य ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों को ठीक किए जाने का मामला सदन में रखा गया तथा सम्बन्धितों को त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिये गए।

यह भी पढ़ें -  बढ़ेगा प्रशासकों का कार्यकाल,अक्टूबर में होंगे नगर निकाय चुनाव ?

बैठक में विभिन्न सदस्यों द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में उरेडा द्वारा लगाए जा रहे सोलर स्ट्रीट लाइट को शीघ्र तथा गुणवत्ता से लगाने का मामला रखा गया। इसके अतिरिक्त बैठक में खाद्य एवं आपूर्ति, कृषि उद्यान स्वास्थ्य पेयजल सिंचाई परिवहन, पशुपालन आदि विभागों की समीक्षा की गयी।
बैठक में अध्यक्ष जिला पंचायत दीपिका बोहरा, जिलाधिकारी डा०आशीष चौहान, मुख्य विकास
अधिकारी अनुराधा पाल, उपाध्यक्ष जिला पंचायत कोमल मेहता समेत विभिन्न सदस्य जिला पंचायत तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page