Connect with us

भारत- नेपाल की सेना के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास(ऑपरेशन सूर्य किरण -15) समापन।

उत्तराखण्ड

भारत- नेपाल की सेना के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास(ऑपरेशन सूर्य किरण -15) समापन।

उत्तराखंड – पिथौरागढ़ में14 दिन तक चले संयुक्त सैन्याभ्यास ऑपरेशन सूर्य किरण -15 का समापन हो गया है। इस दौरान भारत की ओर से लेफ्टिनेंट जनरल एसएस महल, वीएसएम जीओसी यूबी एरिया और नेपाल के मेजर जनरल विनय बिक्रम राणा ने कहा कि सूर्य किरण सैन्य अभ्यास दोनों देशों के रिश्तों को और अधिक मजबूत करेगा। अभ्यास प्लाटून स्तर से बटालियन स्तर पर हुआ। 14 दिन तक चले इस संयुक्त युद्धाभ्यास में दोनों देशों के सैनिकों ने आतंकवादी गतिविधियों, युद्ध कौशल और तकनीक के साथ ही आपदा से निपटने की बारीकियां सीखीं। प्रशिक्षण में दोनों देशों के 650 अधिकारी और सैनिकों ने युद्धकौशल साझा किया। लेफ्टिनेंट जनरल एसएस महल ने सफल संयुक्त सैन्य अभ्यास के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा संयुक्त अभ्यास से दोनों देशों की सेनाओं को बहुत लाभ हुआ है। आपसी तालमेल भी बढ़ा है।

समापन सत्र से पहले जवानों ने प्रशिक्षण के दौरान सीखे गए युद्ध कौशल का प्रदर्शन भी किया। इस दौरान हेलीकॉप्टर से उतरकर आतंक विरोधी कार्रवाई को भी दर्शाया गया। भारतीय सेना के ले. जनरल महल ने कहा कि यह युद्धाभ्यास हर साल भारत और नेपाल में बारी-बारी से आयोजित किया जाता है। युद्धाभ्यास में सैनिकों को युद्ध की नवीन तकनीक की जानकारी के साथ साझा अभ्यास का अवसर मिलता है।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

नेपाली सेना के मेजर जनरल राणा ने कहा कि युद्धाभ्यास में सीखी गई जानकारी का लाभ दोनों देशों की सेनाओं को मिलेगा। उन्होंने कहा कि भारत के साथ नेपाल के संबंधों की डोर मजबूत है। इस दौरान भारतीय सेना के सीडीआर 119 ब्रिगेड के ब्रिगेडियर सौरभ सिंधे, नेपाल सेना के ब्रिगेडियर केबी थापा सहित दोनों देशों के सैन्य अधिकारी शामिल रहे।

यह भी पढ़ें -  बढ़ेगा प्रशासकों का कार्यकाल,अक्टूबर में होंगे नगर निकाय चुनाव ?


सेना क्षेत्र में आयोजित 14 दिवसीय ऑपरेशन सूर्य किरण -15 के तहत प्रशिक्षण के बाद भारत व नेपाल की सेना के जवानों के बीच प्रतिस्पर्धा कराई गयी। जिसमें भारतीय सेना के मुकेश भट्ट व नेपाल सेना के मेजर खीम बहादुर क्षेत्री प्रथम रहे। भारतीय सेना के उमेश व नेपाल के सुरेश राय ने दूसरा स्थान प्राप्त किया। मिनी मैराथन में नेपाल के सचिन और भारत के अनुराग प्रथम स्थान पर रहे। इसमें भारत के धर्मेंद्र, धनवीर व नेपाल के वीर बहादुर खड़का और कमल राना भट्ट क्रमश: द्वितीय, तृतीय रहे। युद्धाभ्यास के तहत दीवाल पर चढ़ने को लेकर दिए गये प्रशिक्षण के बाद हुई प्रतियोगिता में नेपाल के दीपक राय व भारत के प्रकाश कार्की प्रथम रहे। नेपाल के नेजन लंबू व भारत के धमेंद्र ने दूसरा स्थान प्राप्त किया। युद्ध कला में नेपाल के प्रकाश कार्की व भारतीय सेना के सुमन ने बाजी मारी। सभी विजेताओं को सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

भारत-नेपाल संबंधों के लिए वरदान बनेगा संयुक्त युद्धाभ्यासदोनों देशों के सैन्य अधिकारियों ने युद्धाभ्यास के समापन समारोह में मीडिया को संबोधित को संबोधित करते हुए कहा कि भारत-नेपाल संबंधों के लिए संयुक्त युद्धाभ्यास वरदान बनेगा। भारतीय सेना के उत्तर भारत क्षेत्र के ले.जनरल एसएस महल जीओसी ने कहा कि दोनों देशों के सैनिकों ने इस दौरान आतंकी कार्रवाई का मुंहतोड़ जवाब देने के साथ घर में घुसे आतंकियों को सबक सिखाने का अभ्यास किया।

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page