Connect with us

गुरना-तोली सड़क एक सप्ताह के भीतर मरम्मत कार्य शुरू करें विभाग, थरकोट झील दिसम्बर से पहले पूरी हो- जिलाधिकारी।

उत्तराखण्ड

गुरना-तोली सड़क एक सप्ताह के भीतर मरम्मत कार्य शुरू करें विभाग, थरकोट झील दिसम्बर से पहले पूरी हो- जिलाधिकारी।

पिथौरागढ़– जिलाधिकारी डा० आशीष चौहान ने तहसील पियौरागढ अन्तर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग टनकपुर
पिथौरागढ़ के गुरना से तोली मोटर मार्ग का लोनिवि व एन एच के अधिकारियों व स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं जनता के साथ निरीक्षण किया गया। इस दौरान जिलाधिकारी ने
गुरना तोली मोटर मार्ग जिसकी प्रारम्भ में ही एन.एच सड़क मार्ग चौड़ीकरण कार्य के कारण दिवार आदि क्षतिग्रस्त हो जाने के साथ ही पावर ग्रिड के टावर को भी खतरा उत्पन्न हो गया है, इस सड़क का जिलाधिकारी द्वारा स्थलीय निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने लोक निर्माण
विभाग तथा एनएच के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह तत्काल एक सप्ताह में उक्त स्थल पर सड़क ट्रीटमेंट/ मरम्मत का कार्य प्रारंभ करने के साथ ही विद्युत टावर की सुरक्षा हेतु भी प्रस्ताव तैयार कर उन्हें प्रस्तुत करते हुए सुरक्षात्मक कार्य प्रारम्भ करने के निर्देश विभाग को दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि लम्बे समय से उक्त सड़क के इस स्थान पर मार्ग अवरुद्ध होने के कारण आम जनता को समस्या उत्पन्न हो रही है,जिसे लोनिवि तथा एन एच के अधिकारी आपसी समन्वय के साथ शीघ्र ही सुधारीकरण का कार्य कराएं।


इसके उपरान्त जिलाधिकारी डा० चौहान द्वारा थरकोट झील के निर्माण कार्य का भी स्थलीय निरीक्षण कर कार्य की प्रगति की जानकारी लेते हुए विभागीय अधिकारियों को कार्य में और अधिक तेजी लाने के निर्देश दिये, ताकि दिसम्बर 2021 तक झील का निर्माण कार्य पूर्ण हो सके।
इस दौरान सिचाई विभाग के अधिकारियों ने अवगत कराया कि थरकोट झील में वर्तमान तक 42 फीसदी कार्य पूर्ण हो गया है।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी द्वारा नगर मुख्यालय में निर्माणाधीन इवीएम वियर हाउस का भी स्थलीय निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान दोनों परियोजनाओं में वर्तमान में कार्य की प्रगति पूर्व में बनाए गए बार चार्ट के अनुसार ठीक पाई गई।
जिलाधिकारी ने दोनों विभागों के अधिकारियों को आगे भी इसी प्रकार तेजी से कार्य करने के निर्देश दिये।
निरीक्षण के दौरान उपाध्यक्ष
जिला पंचायत कोमल मेहता, अधिशासी अभियंता सिचाई फरहान अहमद, सहायक अभियंता लोनिवि दिनेश जोशी, अवर अभियंता एन एच गिरिराज कुमार,प्रधान ग्यारदेवीललिता पाण्डेय, ग्राम प्रधान काटे प्रियंका पाण्डेय, ग्राम प्रधान तोली भुवनेश्वरी चंद, समेत सामाजिक कार्यकर्ता दीवान सिंह, प्रकाश जोशी,नरेश पाण्डेय, पवन चंद व स्थानीय नागरिक उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें -  बढ़ेगा प्रशासकों का कार्यकाल,अक्टूबर में होंगे नगर निकाय चुनाव ?

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page