Connect with us

भारत-उज्बेकिस्तान सेना का संयुक्त युद्धयाभ्यास पिथौरागढ़ में शुरू

उत्तराखण्ड

भारत-उज्बेकिस्तान सेना का संयुक्त युद्धयाभ्यास पिथौरागढ़ में शुरू

दोनों देशो के 90 अधिकारी व जवान कर रहे शिरकत

पिथौरागढ़– भारत-उज़्बेकिस्तान संयुक्त प्रशिक्षण DUSTLIK 2023 उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में आज शुरू हो गया है। दोनों देशों की सेना के होने वाले युध्यभास का ये चौथा संस्करण है । आज सेना के विदेशी प्रशिक्षण नोड में उद्घाटन समारोह के साथ ही 14 दिनों तक चलने वाला ये युध्यभास शुरू हुआ। उद्घाटन में दोनो देशो के राष्ट्रगान “जन गण मन” भारत की धुन व “सेरक्यूयोश, हुरो ‘इकम” उज्बेकिस्तान की राष्ट्रधुन व दोनों देशों के राष्ट्रीय ध्वज फहराए गए। “

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड उच्च न्यायालय स्थानांतरण कुमाऊं-गढ़वाल का विषय न बने।

लेफ्टिनेंट कर्नल अमित कुमार डिमरी, एससी के नेतृत्व में गढ़वाल राइफल्स की 14वीं बटालियन के प्रत्येक 45 कर्मियों द्वारा भारतीय सेना की टुकड़ी का प्रतिनिधित्व किया गया और लेफ्टिनेंट कर्नल शेरजोद गुफरोव के नेतृत्व में उज़्बेकिस्तान सेना के उत्तर पश्चिमी सैन्य जिले की 53008 मोटराइज्ड इन्फैंट्री रेजिमेंट।

समारोह को ब्रिगेडियर मयंक वैद, कमांडर 32 इन्फैंट्री ब्रिगेड और लेफ्टिनेंट कर्नल शौकत झोन सोरमोनकुलोउ, रक्षा मंत्रालय के अधिकारी और उज्बेकिस्तान प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख ने संबोधित किया।संयुक्त अभ्यास को सामरिक सैन्य अभ्यास, विशेष अभियानों पर प्रशिक्षण और व्यावहारिक चर्चाओं के संचालन के माध्यम से द्विपक्षीय सैन्य सहयोग को विकसित करने और सैन्य भाईचारे को मजबूत करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

इस अभ्यास में अर्ध-शहरी और पहाड़ी इलाकों की पृष्ठभूमि में उप-परंपरागत वातावरण में उप-इकाई स्तर पर बहु-डोमेन सामरिक संचालन शामिल होंगे।

14 दिनों तक चलने वाले इस अभ्यास में परिचालन अनुभव साझा करना, सामरिक अभ्यास और प्रक्रियाएं, खेल खेलने के विभिन्न प्रदर्शन और सांस्कृतिक समझ विकसित करना शामिल होगा।

यह भी पढ़ें -  बढ़ेगा प्रशासकों का कार्यकाल,अक्टूबर में होंगे नगर निकाय चुनाव ?

संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण द्विपक्षीय संबंधों को बेहतर बनाने में मदद करेगा और दोनों देशों के बीच दोस्ती के पारंपरिक बंधन को और मजबूत करने की दिशा में एक बड़ा कदम होगा।

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page