Connect with us

अध्योध्या में ‘उत्तराखण्ड भवन’ के निर्माण का रास्ता साफ

उत्तराखण्ड

अध्योध्या में ‘उत्तराखण्ड भवन’ के निर्माण का रास्ता साफ

धामी सरकार ने आवंटित भूमि की रजिस्ट्री अपने नाम करवाई

राज्य अतिथि गृह के निर्माण के रजिस्ट्री प्रक्रिया पूरी करने वाला पहला राज्य है उत्तराखण्ड

मुख्यमंत्री धामी ने जताया हर्ष, बोले रामनगरी में सबसे पहले बनाएंगे राज्य अतिथि गृह, श्रद्धालुओं को मिलेगा लाभ

देहरादून- राम जन्मभूमि अयोध्या में उत्तराखण्ड भवन (राज्य अतिथि गृह) के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। भूखण्ड के आवंटन से जुड़ी सभी औपचारिकताएं पूरी करते हुए उत्तराखण्ड सरकार ने अयोध्या में आवंटित भूखण्ड की रजिस्ट्री अपने नाम करवा ली है। उत्तराखण्ड पहला राज्य है जिसने अयोध्या में राज्य अतिथिगृह के निर्माण के लिए भूखण्ड की रजिस्ट्री प्रक्रिया पूरी कर ली है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हर्ष प्रकट करते हुए कहा कि सरकार अपने वायदे के अनुरूप जल्दी से जल्दी रामनगरी अयोध्या में अतिथि गृह का निर्माण करेगी ताकि रामलला के दर्शन के लिए अयोध्या आने वाले उत्तराखण्ड के श्रद्धालुओं को ठहरने के उचित सुविधा मिल सके। यह भूखण्ड राममंदिर से महज 7 किलोमीटर (हवाई दूरी 3 किमी) की दूरी पर स्थित है। अयोध्या में दिव्य और भव्य राममंदिर के निर्माण के बाद मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने घोषणा की थी कि उत्तराखंड सरकार अयोध्या में राज्य अतिथि गृह का निर्माण करेगी।

यह भी पढ़ें -  भारत-नेपाल अन्तर्राष्ट्रीय बॉर्डर चैक पोस्ट का डीआईजी कुमांऊ ने किया निरीक्षण।

इस घोषणा के साथ ही मुख्यमंत्री धामी ने भूमि खरीद के लिए फौरीतौर पर 32 करोड़ रुपए भी स्वीकृत किए थे। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तराखण्ड सरकार का आग्रह स्वीकार कर भूखण्ड आवंटन की स्वीकृति प्रदान की थी, जिसके बाद उत्तर प्रदेश आवास विकास परिषद ने अयोध्या में उत्तराखण्ड भवन के निर्माण के लिए 5253.30 वर्ग मीटर भूखंड आवंटित किया था। अब धामी सरकार ने सभी औपचारिकताएं पूरी करते हुए आवंटित भूखण्ड अपने नाम दर्ज करवा लिया है। मंगलवार को ही भूखण्ड की रजिस्ट्री उत्तराखण्ड सरकार के नाम हुई है। भूखण्ड की रजिस्ट्री होने के साथ ही मुख्यमंत्री धामी ने उत्तराखण्ड भवन की डीपीआर बनाने का काम शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

Continue Reading

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Follow Facebook Page